sooji and poha chilla recipe- सूजी और पोहे के चीले की रेसिपी – Viral News

सूजी और पोहे का चीला काफी हल्का होता है और इसे बनाने के लिए कम तेल की जरूरत होती है। मानसून में अगर आप पकोड़ों की जगह इन चीलों का मजा लेते है तो ये बारिश में खाने के लिए एक बेहतरीन स्नैक्स हो सकता है और आपकी गट हेल्थ को भी अच्छा रख सकता है।

बारिश का मौसम आप आ गया है ऐसे में हम सभी को कुछ न कुछ पकोड़े चाय, तला हुआ खाने का मन होता है। बारिश में मौसम का मजा लेने का यही एक तरीका भी है। लेकिन आपको पता होना चाहिए कि ये तला भूना खाना आपकी सेहत के लिए बिल्कुल अच्छा नहीं होता है। ये आपकी गट हेल्थ (gut health) और आपके पेट को खराब कर सकता है। मानसून की मजा आप तभी ले सकते है जब आपका पेट सही हो अगर आपका पेट खराब है तो आप मानसून की बारिश का मजा नहीं ले पाएंगे। सूजी और पोहे के चीले की ये रेसिपी (sooji and poha chilla recipe) आपके पेट को स्वस्थ रखने में आपकी मदद कर सकती है।

सूजी और पोहे का चीला काफी हल्का होता है और इसे बनाने के लिए कम तेल की जरूरत होती है। मानसून में अगर आप पकोड़ों की जगह इन चीलों का मजा लेते है तो ये बारिश में खाने के लिए एक बेहतरीन स्नैक्स हो सकता है और आपकी गट हेल्थ को भी अच्छा रख सकता है। चीला दही और तरह तरह की सब्जियों का इस्तेमाल करके बनाया जाता है, जिसके कारण इसमें गुड बैक्टिरिया (good bacteria) और फाइबर की अच्छी मात्रा हो जाता है। इसके कारण ये आपके गट का बहुत अच्छे से ख्याल रखता है।

बारिश के मौसम में सूजी और पोहे का चीला खाने के फायदे (Sooji and poha chilla benefits)

बारिश में सूजी और पोहे के चीले खाने के कई लाभ मिल सकते है। चीले हल्के, पचने में आसान होते हैं और मानसून में होने वाली पाचन समस्याओं को रोकने में मदद करते हैं। इसमें सब्जियां मिलाने से इसका पोषण मूल्य बढ़ जाता है जिसके कारण ये विटामिन और खनिज से भरपूर हो जाती है और स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा काम करती है। बैटर में दही या छाछ मिलाने से प्रोबायोटिक्स मिलते हैं, जो गट हेल्थ और इम्युनिटी के लिए बहुत अच्छे होते है। ये चीला काफी जल्दी, आसानी से और बिना किसी झंझट के बन जाता है। आप इसे किसी भी खा सकते है और इसका आनंद ले सकते है।

क्या सूजी और पोहे की चीला हेल्दी है (Is sooji chilla healthy)

सूजी में कोमप्लेक्स कार्बोहाइड्रेट भरपूर मात्रा में होते हैं, जो आपको पूरे दिन ऊर्जा देने का काम करता है। इसमें प्रोटीन, आयरन और बी विटामिन जैसे फोलेट और थायमिन होते हैं। इसमें फाइबर, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस भी होता है।

पोहा, भी कार्बोहाइड्रेट का एक अच्छा स्रोत है जो आपको पूरे दिन ऊर्जा देता है। इसमें आयरन होता है। पोहा बी विटामिनका भी एक स्रोत है। यह पेट के लिए हल्का और आसानी से पचने वाला खाद्य पदार्थ होता है।

यह भी पढ़ें

कैसे बनाएं सूजी और पोहे का चीला (How to make sooji and poha chilla)

सूजी और पोहे का चीला बनाने के लिए आपको चाहिए

सूजी 1/2 कप
पोहा 1/2 कप
दही 1/2 कप
पानी 1/2 कप
बारीक कटी हुई सब्जियां 1/2 कप (गाजर, पालक, प्याज़, टमाटर)
1-2 हरी मिर्च
जीरा 1/2 चम्मच
नमक स्वादानुसार
तेल

कैसे बनाएं सूजी और पोहे का चीला

  1. पोहा को पानी से धोकर छान लें। इसे नरम होने के लिए कुछ मिनट के लिए रख दें।
  2. एक बड़े कटोरे में, सूजी, नरम पोहा और दही मिलाएं।
  3. एक मिक्स बनाने के लिए इसमें धीरे-धीरे पानी मिलाएं। मिश्रण को 15-20 मिनट के लिए रख दें।
  4. इस बैटर में कटी हुई सब्जियां, जीरा, हरी मिर्च और नमक मिलाएं।
  5. मध्यम आंच पर नॉन-स्टिक पैन या तवा गरम करें और उस पर हल्का तेल लगाएं।
  6. पैन पर एक चमच्च घोल डालें और इसे समान रूप से गोलाकार गति में फैलाएं ताकि एक पतला बनकर तैयार हो जाए।
  7. इसे तब तक पकाएं जब तक कि किनारे ऊपर न उठने लगें और नीचे का हिस्सा सुनहरा भूरा न हो जाए।
  8. चीले को पलटें और दूसरी तरफ से भी सुनहरा भूरा होने तक पकाएं।

ये भी पढ़े- ह्यूमिडिटी स्किन को चिपचिपा और इरिटेटिंग बना रही है, तो इस तरह रखें अपनी स्किन को फ्रेश

Source link

Leave a Comment