Jaane garmi aur barsat mein barley ke fayde. – जानें गर्मी और बरसात में बार्ली के फायदे। – Viral News

Jaane garmi aur barsat mein barley ke fayde : ह्यूमिडिटी से लोग शरीर में गर्मी और पाचन संबंधी समस्याओं का सामना करने लगते हैं। ऐसी स्थिति में बार्ली यानी जौ का सेवन आपके लिए फायदेमंद (Barley benefits) साबित हो सकता है।

बार्ली (Barley) यानी जौ (Jau) एक बेहद खास सुपरफूड है। इसके खास पोषक तत्वों के कारण अकसर छोटे और बढ़ते बच्चों को जौ से तैयार व्यंजन खिलाए जाते हैं। पर क्या आप जानते हैं गर्मी और बरसात में जब आप बाजरा जैसे सुपरफूड नहीं खा सकते, तब जौ एक बेहतरीन अनाज साबित होता है। गर्मी और बरसात के मौसम में वातावरण गर्म और ह्यूमिडिटी से भरा होता है। जिसकी वजह से लोग शरीर में गर्मी और पाचन संबंधी समस्याओं का सामना करने लगते हैं। ऐसी स्थिति में बार्ली यानी जौ का सेवन आपके लिए फायदेमंद (Barley benefits) साबित हो सकता है।

हेल्थ शॉट्स ने इसकी विशेषता को समझने के लिए आत्मांतन वैलनेस सेंटर के मेडिकल डायरेक्टर, सीईओ, न्यूट्रीशनिस्ट और आयुर्वैदिक एक्सपर्ट डॉ मनोज कुट्टेरी से बात की। तो चलिए जानते हैं, बरसात और गर्मी के मौसम में जौ के क्या फायदे हैं (Barley benefits in summer)। साथ ही जानेंगे इसे डाइट में शामिल करने का सही तरीका।

फाइबर और विटामिनों का भंडार है बार्ली

जौ एक प्रकार का पौष्टिक अनाज है और जब जौ का पानी बनाने के लिए इसे उबाला जाता है, तो यह कई ज़रूरी विटामिन और मिनरल छोड़ता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में फाइबर, बी विटामिन, आयरन, मैग्नीशियम और सेलेनियम का पाए जाते हैं। ये पोषक तत्व समग्र स्वास्थ्य को बनाए रखने और ऊर्जा के स्तर को बढ़ावा देने में मदद करता है।

एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोकेमिकल्स का एक अच्छा स्रोत है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

जानें गर्मी एवं मॉनसून में जौ के क्या फायदे हैं (benefit of barley in monsoon)

1.हाइड्रेट रखता है (hydration)

गर्मी के महीनों में हाइड्रेटेड रहना बहुत ज़रूरी है और जौ का पानी इसमें आपकी मदद कर सकता है। यह एक रिफ्रेशिंग ड्रिंक है, जो आपको अंदरूनी तथा बाहरी दोनों ही रूप से हाइड्रेट रखता है और पसीने के ज़रिए खोए ज़रूरी इलेक्ट्रोलाइट्स की भरपाई करता है।

2.कूलिंग प्रॉपर्टी (cooling property)

जौ के पानी में नेचुरल कूलिंग प्रॉपर्टी पाई जाती है, जो इसे गर्मी से बचने के लिए एक बेहतरीन विकल्प बनाती है। यह शरीर की गर्मी को कम करने में मदद करता है, खास तौर पर ये गर्म दिनों में एक आरामदायक और रिफ्रेशिंग एहसास प्रदान करता है।

यह भी पढ़ें

पेट पर भारी पड़ रहा है बारिश का मौसम, तो ट्राई करें सूजी और पोहे के चीले की हेल्दी और लाइट रेसिपी

4. पाचनतंत्र को स्वस्थ रखता है (healthy digestion)

जौ का पानी अपने बेहतरीन पाचन गुणों के लिए जाना जाता है। इसमें सॉल्युबल फाइबर होते हैं, जो पाचन तंत्र को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं। बार्ली का सेवन कब्ज, सूजन और अपच जैसी समस्याओं से राहत दिलाने में मदद करता है, जो गर्म और ह्यूमीड मौसम में खान-पान में बदलाव के कारण आम है।

Underweight
वजन कम करने में प्रभावी रूप से कार्य करता है. चित्र : एडॉबीस्टॉक

5. वेट मैनेजमेंट में मददगार (weight management)

अगर आप गर्मियों में अपना वजन बनाए रखना चाहती हैं, या उसे नियंत्रित करना है, तो जौ के पानी को अपने आहार में शामिल करें। जौ के पानी में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है, जो व्यक्ति को लंबे समय तक संतुष्ट रखता है। जिससे कि अनावश्यक रूप से खाने की इच्छा नहीं होती और आप सीमित मात्रा में कैलोरी लेती हैं। यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में भी मदद कर सकता है।

यह भी पढ़ें: कई समस्याओं का जांचा-परखा नुस्खा है ईसबगोल, जानिए ये कैसे काम करता है

6.डिटॉक्सिफिकेशन करता है (detoxification)

जौ का पानी शरीर के लिए एक प्राकृतिक डिटॉक्सिफायर के रूप में कार्य करता है। यह टॉक्सिक पदार्थों और अपशिष्ट उत्पादों को बाहर निकालने, स्वस्थ किडनी फ़ंक्शन को बढ़ावा देने और मूत्र पथ के संक्रमण के जोखिम को कम करने में मदद करता है। डिटॉक्सिफिकेशन गर्मियों के दौरान विशेष रूप से महत्वपूर्ण है, जब डिहाईड्रेशन और टॉक्सिन बिल्डअप आम होते हैं।

7. त्वचा को तनाव से बचाता है

जौ के पानी में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो ऑक्सीडेटिव तनाव से लड़ने में मदद करते हैं और त्वचा को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाते हैं। बार्ली के पानी का नियमित सेवन स्वस्थ और चमकदार रंगत पाने में आपकी मदद कर सकता है, जिससे मुंहासे और दाग-धब्बे जैसी त्वचा संबंधी समस्याएं कम होती हैं।

barley ke kai benefits hain
बार्ली यानी कि जौ (barley) एक प्रकार का अनाज है जिसमें कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं. चित्र शटरस्टॉक

जानें इसे डाइट में किस तरह कर सकती हैं शामिल (how to add barley in diet)

इसे डाइट में शामिल करने का सबसे आसान तरीका है बार्ली वॉटर। भिगोए हुए बार्ली को पानी में डालें और इसमें 10 से 15 मिनट तक उबाल आने दें। फिर मिश्रण को छानकर अलग कर लें, उसमें नमक मिलाएं और इसे पिएं।

ब्रेकफास्ट में ओट्स के साथ बार्ली फ्लैक्स भी ट्राई करें। फाइबर से भरपूर बार्ली आपके पूरे दिन एनर्जेटिक रहने में मदद करेगा।

आप बार्ली को सूप और सब्जी में ऐड कर सकती हैं।

बार्ली के आटे को बेकिंग के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं, जैसे कि केक, पैन केक, मफिन, कुकीज आदि को बनाने में।

अब पके हुए बार्ली को नियमित सलाद में ऐड कर सकती हैं।

चावल और क्विनोआ की जगह हफ्ते में 2 बार बार्ली लें।

यह भी पढ़ें: पेट पर भारी पड़ रहा है बारिश का मौसम, तो ट्राई करें सूजी और पोहे के चीले की हेल्दी और लाइट रेसिपी

Source link

Leave a Comment